7.9 C
London
Thursday, November 26, 2020

अनोखा गांव: भारत का एक ऐसा गांव, जहां काले रंग से ही रंगे जाते हैं घर; जानें क्या है वजह

- Advertisement -
- Advertisement -

डिजिटल डेस्क। घरों को रंगने के लिए केवल काले रंग का प्रयोग कोई भी नहीं करता है। इतना ही नहीं ऑयल पेंट, इमल्शन पेंट या चूना कलर किसी के भी कैटलॉग में काला रंग नहीं होता है। क्योंकि इस रंग की डिमांड बिल्कुल ना के बराबर है। लेकिन छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में आदिवासी बाहुल्य गांव और शहर में काले रंग से रंगे हुए मकान आसानी से नजर आते हैं। आदिवासी समज के लोग आज भी अपने घरों की फर्श और दीवारों को काले रंग से रंगते हैं। इसके पीछे कई मान्यताएं हैं।

दिवाली से पहले सभी लोग अपने घरों के रंग-रोगन का काम करवाते हैं। इस साल भी जशपुर जिले के आदिवासी समाज के लोग परंपरा के अनुरूप काले रंग का ही चयन कर घरों को रंग रहे हैं। ग्रामीण घरों की दीवारों को काली मिट्टी से रंगते हैं। इसके लिए कुछ ग्रामीण पैरावट जलाकर काला रंग तैयार करते हैं, तो कुछ टायर जलाकर भी काला रंग बनाते हैं। बता दें कि पहले काली मिट्टी आसानी से उपलब्ध हो जाती थी, लेकिन काली मिट्टी नहीं मिलने की स्थिति में ऐसा किया जा रहा है। 

अघरिया आदिवासी समाज के लोग एकरूपता दर्शाने के लिए घरों को काले रंग से रंगना शुरू कर दिया। यह रंग उस समय से इस्तेमाल किया जा रहा है, जब आदिवासी चकाचौंध से दूर थे। घरों को रंगने के लिए उस वक्त काली मिट्टी या छुई मिट्टी ही हुआ करती थी, और इससे रंगाई कर ली जाती थी। आज भी गांव में काले रंग को देखकरपता चल जाता है कि यह किसी आदिवासी का मकान है। काले रंग से एकरूपता बनी हुई है।

काले रंग से रंगे घरों में दिन में भी इतना अंधेरा होता है कि किस कमरे में क्या है इसके बारे में पता केवल घर के सदस्य को होती है। बता दें आदिवासी लोगों के घरों में खिड़की कम होते हैं। छोटे-छोटे रोशनदान होते हैं। ऐसे घरों में चोरी का खतरा कम होता है। इसके साथ ही काले रंग की एक विशेषता ये भी थी कि हर तरह के मौसम में काले रंग की मिट्टी की दीवार आरामदायक होती थी। इतना ही नहीं । आदिवासी दीवारों पर कई कलाकृतियां भी बनाते हैं। इसके लिए भी दीवारों पर काला रंग चढ़ाते हैं।
 

Source

- Advertisement -

Latest news

अजब-गजब : ‘शिंकुला से फुटाला’ तक 3313 किमी का सफर 11 दिन में किया पूरा

डिजिटल डेस्क, नागपुर। रफ्तार और रोमांच के शौकीन शहर के रामेश्वरी निवासी बाइक राइडर आकाश साल्वे ने शिंकुला से फुटाला का  सफर...
- Advertisement -

कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल (23 से 29 नवंबर)

आपके लिए हम इस सप्ताह फिर लेकर आए हैं, आपकी लग्नराशि पर आधारित कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल। जानिए, यह सप्ताह आपके लिए...

महाराष्ट्र में कोरोना से सिर्फ 50 मौतें, 5,753 नए मामले आए

मुंबई, 23 नवंबर (आईएएनएस)। महाराष्ट्र में रविवार को कोराना से सिर्फ 50 लोगों की मौत होने की खबर है, लेकिन नए मामले...

एक गिटार से गरीबी काउंटी ने विश्व से संपर्क रखा

बीजिंग, 19 नवंबर (आईएएनएस)। 42 वर्षीय चेन मिन ने सोचा नहीं था कि कोविड-19 महामारी के कारण उनके गिटार व्यापार में ऑर्डर...

Related news

अजब-गजब : ‘शिंकुला से फुटाला’ तक 3313 किमी का सफर 11 दिन में किया पूरा

डिजिटल डेस्क, नागपुर। रफ्तार और रोमांच के शौकीन शहर के रामेश्वरी निवासी बाइक राइडर आकाश साल्वे ने शिंकुला से फुटाला का  सफर...

कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल (23 से 29 नवंबर)

आपके लिए हम इस सप्ताह फिर लेकर आए हैं, आपकी लग्नराशि पर आधारित कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल। जानिए, यह सप्ताह आपके लिए...

महाराष्ट्र में कोरोना से सिर्फ 50 मौतें, 5,753 नए मामले आए

मुंबई, 23 नवंबर (आईएएनएस)। महाराष्ट्र में रविवार को कोराना से सिर्फ 50 लोगों की मौत होने की खबर है, लेकिन नए मामले...

एक गिटार से गरीबी काउंटी ने विश्व से संपर्क रखा

बीजिंग, 19 नवंबर (आईएएनएस)। 42 वर्षीय चेन मिन ने सोचा नहीं था कि कोविड-19 महामारी के कारण उनके गिटार व्यापार में ऑर्डर...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here